Insurance Meaning In Hindi। बीमा क्या है? और इसके प्रकार।

Insurance Meaning In Hindi- दोस्तों Insurance या बीमा के बारे में तो आपने कही न कही सुना ही होगा।

या किसी दुर्घटना के वक्त किसी के मुँह से सुना हो की काश में अपनी कार का बीमा करवा लेता तो आज इस भारी नुकसान से बच जाता।

क्योंकि आजकल लोगो द्वारा उपयोग की जाने वाली हर कीमती चीज का बीमा करवाना जरुरी है। और इसके लिए मार्केट में कई सारी कम्पनियाँ मौजूद है।

लेकिन इसे सुनकर कुछ लोगो के मन में सवाल आता है की बीमा क्या है?(Insurance Meaning In Hindi).

और Insurance कितने प्रकार का होता है? (Types of Insurance In Hindi) और ये बीमा कम्पनियाँ आपके नुकसान का खर्च कैसे उठाती है। तो आज हम इन्ही सारे सवालो के बारे में जानने वाले है।

बीमा क्या है? (Insurance Meaning In Hindi)

बीमा (Insurance) भविष्य में होने वाली दुर्घटना से बचने का एक उपाय है। इसमें व्यक्ति को वित्तीय नुकसान (Financial Loss) से बचने में सुरक्षा प्रदान होती है।

इसमें बिमित व्यक्ति या वस्तु के साथ दुर्घटना होने पर बीमा कंपनियों द्वारा उस व्यक्ति या वस्तु के लिए मुआवजा दिया जाता है। जिसकी राशि पहले से निर्धारित होती है।

हमारी हर कीमती चीज का बीमा करवाना जरुरी है। क्योंकि जीवन में कब हो जाये किसी को पता नहीं होता है।

और Insurance इस दुखद घड़ी में हमारी लिए Financially Backup का काम करता है।

आसान भाषा में कहा जाये तो Insurance का मतलब Protection Against Your Loss होता है। जो हमारे किसी भी तरह होने वाले नुकसान का Protection प्रदान करता है। और इसके बदले Companey हमसे Premium लेती है।

जैसे मान लीजिये आपने नई कार ली और उसका एक्सीडेंट हो गया ऐसे में अगर आपने गाड़ी का बीमा (Insurance) करवा रखा होगा, तो बीमा कंपनी द्वारा आपके नुकसान का मुआवजा दिया जायेगा।

बीमा कितने प्रकार का होता है? (Types of Insurance in Hindi)

बीमा क्या होता है?(Insurance Meaning in Hindi) ये तो आप समझ गए होंगे लेकिन अब हम बीमा कितने प्रकार के होते है। इसके बारे में जानेंगे

Insurance कई प्रकार के होते है। जिनकी पॉलिसी और प्लान भी अलग-अलग तरह के होते है। और सभी के फायदे भी अलग-अलग होते है।

यहाँ मैं कुछ खास Insurance के बारे में बताऊंगा जिनको करवाना हमारे लिए बहुत ही जरुरी है। कोई भी अनहोनी होने के बाद ये बहुत ही मदद करते है।

जीवन बीमा (Life Insurance)

जीवन बीमा को Personal Insurance के नाम से भी जाना जाता है। इसमें बीमा पॉलिसी खरीदने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर

बीमा कंपनी द्वारा उस व्यक्ति के परिवार या पॉलिसी में जुड़े Nominee को उसका मुआवजा दिया जाता है। जो की बीमा कंपनी के नियम और शर्तो के अनुसार होता है।

इस प्रकार का बीमा लोग अक्सर अपने परिवार के लिए करवाते है। क्योंकि जिंदगी का कोई भरोसा नहीं होता कब क्या अनहोनी हो जाये।

चिकित्सा और स्वास्थ्य बीमा (Medical and Health Insurance)

चिकित्सा और स्वास्थ्य बीमा योजना (Medical and Health Insurance Meaning in Hindi) के अंतर्गत बीमा पालिसी खरीदने वाले व्यक्ति का स्वास्थ्य ख़राब हो जाने पर उसके लिए इलाज का खर्च बीमा कंपनी उठाती है।

इसमें बीमित व्यक्ति का इलाज, दवाइयाँ, ऑप्रेशन और कभी- कभी Health Cheackup का खर्च भी शामिल होता है। इस Insurance को हर वर्ष Renewal करवाना पढ़ता है।

आजकल की खान पान के हिसाब से हर व्यक्ति का स्वास्थ्य बीमा होना जरुरी है। क्योंकि 1 साल में 1 बार बीमार होना तो आम बात है।

और ऐसे में इलाज के लिए जेब में पैसे नहीं हो तो बीमारी गंभीर होने पर जान का खतरा भी हो सकता है।

वाहन बीमा (Vehicle Insurance)

वाहन बीमा (Vehicle Insurance Meaning in Hindi) के अंतर्गत अगर अपने वाहन का Insurance करवा रखा है। और आपके वाहन का कोई Accident हो जाता है।

या फिर वाहन चोरी हो जाने पर बीमा कंपनी द्वारा आपके नुकसान का आपको मुआवजा देने की गारंटी ली जाती है।

कानूनन तौर पर सड़क पर चलने वाले हर वाहन का बीमा करवाना अनिवार्य है। अन्यथा ट्रैफिक पुलिस द्वारा इसका हर्जाना भुगतना पढ़ सकता है।

वाहन इन्शुरन्स का सबसे बढ़ा फायदा तब होता है, जब आपने Third Party Insurance ले रखा होता है।

इसमें अगर आपके वाहन से किसी व्यक्ति का Accident हो जाता है, या फिर उसकी मृत्यु हो जाती है। बीमा कंपनी इसका मुआवजा देती है।

निजी दुर्घटना बीमा (Personal Accident Insurance)

निजी दुर्घटना बीमा (Personal Accident Insurance Meaning in Hind) के अंतर्गत Policy किये हुए व्यक्ति के साथ दुर्घटना (एक्सीडेंट,चोट, फ्रेक्चरया मृत्यु) होने पर

Policy Holder अर्थात बीमित व्यक्ति के अस्पताल का खर्च बीमा कंपनी ही देती है। अगर व्यक्ति की मौत हो जाती है, तो उस व्यक्ति के परिवार को मुआवजा के रूप में राशि दी जाती है।

इस बीमा की हर व्यक्ति को जरुरत होती है। क्योंकि दुर्घटना किसी के भी साथ हो सकती है। और ऐसे में निजी दुर्घटना बीमा एक Financially Backup के रूप में काम करता है।

यात्रा बीमा (Travel Insurance)

अगर आप ज्यादा ट्रेवलिंग करते है और आपको ज्यादा घूमना पसंद है। तो यात्रा बीमा आपके लिए बहुत ही जरुरी है।

यात्रा बीमा के अंतर्गत यात्रा के दौरान होने वाले किसी हादसे जैसे- यात्रा रद्द,Flight Delay, निजी दुर्घटना, सामान चोरी हो जाने या वॉलेट चोरी हो जाने, मेडिकल इमरजेंसी आदि।

स्थिति में आपके नुकसान की भरपाई बीमा कंपनी द्वारा की जाती है। इसमें सभी बीमा कम्पनियो के नियम एवं शर्ते अलग-अलग होती है।

इसलिए बीमा लेने से पहले बीमा कंपनी के एजेंट से इसके बारे में पूरी जानकारी ले।

फसल बीमा (Crop or Farmer Insurance)

अगर आप एक किसान है, और खेती करते है। तो फसल बीमा (Farmer Insurance Meaning in Hindi) आपके लिए बहुत ही लाभदायक साबित हो सकता है।

इसमें अगर आपकी फसल किसी कारण से नष्ट हो जाती है, तो बीमा कंपनी द्वारा आपके नुकसान की भरपाई की जाती है। बीमा कंपनी पहले से तय नियम और शर्तो के अनुसार उसके पैसे आपको देती है।

अगर आप एक किसान है, तो आपको फसल बीमा करवाना जरुरी है। क्योंकि अगर आपकी फसल नष्ट हो जाती है तो आपको उसका मुआवजा मिल जाता है। और बिना किसी चिंता के खेती कर पाओगे।

घर का बीमा (Home Insurance)

घर हर व्यक्ति की पहली आवयश्कता होती है। इसलिए घर के साथ भविष्य में होने वाली दुर्घटनाओं से बचने के लिए घर का बीमा जरुरी है।

होम इन्सुरेंस के अंतर्गत घर के गिर जाने, कोई दुर्घटना होने, आग लग जाने, सामान चोरी होने , या घर में रखे किसी सामान के नुकसान होने पर बीमा कंपनी इसका आपको मुआवजा देती है।

पशुधन बीमा (Pet Insurance)

अगर आप एक पशुपालक है तो पशुधन बीमा (Pet Insurance Meaning in Hindi) आपके लिए लाभदायक साबित हो सकता है।

इसके अंतर्गत बीमा किये पशु के बीमार हो जाने या मृत्यु हो जाने पर बीमा कंपनी द्वारा पहले से तय नियम और शर्तो के अनुसार पशुपालक को धनराशि दी जाती है।

Liability Insurance

लायबिलिटी इन्शुरन्स पॉलिसी ऐसे व्यक्तियों या व्यापारियों को सुरक्षा प्रदान करती है। जिनको अपने बिज़नेस से जुड़ी लापरवाही या गलती करने के कारण मुकदमों में फसने का खतरा होता है।

यह पॉलिसी व्यापारियों को जैल के खर्चो से बचाती है। अगर व्यापारी कोई लापरवाही जानबूझ कर करता है। तो यह पॉलिसी के अंतर्गत नहीं आता है। और सभी बीमा कंपनियों के नियम एवं शर्ते अलग-अलग होते है।

बीमा कम्पनियाँ कैसे कमाती है?

बीमा कम्पनियाँ किसी भी व्यक्ति या वस्तु का बीमा करने के बाद उस व्यक्ति से कंपनी की शर्तो के अनुसार Premium चार्ज करती है।

जैसे मान लीजिये किसी Insurance कंपनी से 10 Mobile Phone का Insurance किया जाता है। और कंपनी प्रति माह 1000 के हिसाब से Premium Charge करती है। और मोबाइल की कीमत 10000 भी है।

तो 1 साल में कंपनी 12000 प्रीमियम चार्ज करती है। अब अगर कोई एक मोबाइल ख़राब हो गया तो 10000 कंपनी का इन्वेस्ट कर देगी फिर भी 2000 कंपनी का प्रॉफिट होगा।

और दूसरे तरीके में कम्पनिया जो भी प्रीमियम चार्ज करती है। उसे Invest करती है। इससे उनका पैसा बढ़ता जाता है।

Conclusion

दोस्तों मुझे उम्मीद है की बीमा क्या है?(Insurance Meaning in Hindi) पोस्ट आपको पसंद आयी होगी। और आपको बीमा से जुड़ी सारी जानकारी मिल गई होगी।

अगर आप किसी भी तरह का बीमा Insurance लेते है तो ट्रस्टेड बीमा कंपनी से ही ले और उसके Terms and Conditions को पहले सही से जाँच ले।

अगर Insurance Meaning in Hindi से जुड़ा आपका कोई सवाल है तो आप हमे कमेंट करके जरूर बताये।

और जानकारी अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ Social Media पर जरूर शेयर करे। जिससे उन्हें भी Insurace के बारे में Basic जानकारी मिल सके।

मेरा नाम Ram Gadri है। मैं इस Blog का Founder और Content writer हूँ। हमारा इस Blog को बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषी लोगों को इंटरनेट से जुड़ी जानकारी प्रदान करवाना है। यहाँ आपको शिक्षा, तकनिकी, कंप्यूटर और मेक मनी से जुड़ी हर तरह की जानकारी मिलने वाली है।

Leave a comment