कीबोर्ड क्या है और इसके प्रकार। Keyboard In Hindi

अगर आपने कभी भी कंप्यूटर का उपयोग किया होगा तो कीबोर्ड क्या है? (Keyboard in Hindi) और इसके उपयोग क्या है। इसके बारे में तो आपको पता ही होगा।

क्योंकि Keyboard कंप्यूटर का एक मुख्य पार्ट है। और बिना कीबोर्ड के कंप्यूटर में हम कई सारे कामो को नहीं कर पाते है। इसलिए कीबोर्ड कंप्यूटर के लिए बहुत ही जरुरी होता है।

इस पोस्ट में हम कीबोर्ड के बारे में बेसिक जानकारी कीबोर्ड क्या है? (Keyboard in hindi) और इसके प्रकार के साथ ही इसमें कितनी Keys होती है। और कीबोर्ड को कंप्यूटर के साथ हम कैसे कनेक्ट कर सकते है। आदि के बारे में जानने वाले है।

कीबोर्ड क्या है? (Keyboard in hindi)

कीबोर्ड कंप्यूटर का एक प्रमुख Input Device है। इसका उपयोग किसी भी Data को टाइप करके कंप्यूटर में एंटर करने के लिए किया जाता है। इसमें कई सारी अलग-अलग प्रकार की Keys होती है। और सभी Keys का अलग-अलग काम होता है।

कंप्यूटर कीबोर्ड अधिकतर आयताकार होते है। और ये टाइप राइटर की तरह ही होता है। लैपटॉप कीबोर्ड में कंप्यूटर कीबोर्ड से कम Keys होती है।

कीबोर्ड का अविष्कार किसने किया? (Who invented keyboard)

सबसे पहले कीबोर्ड का अविष्कार अमेरिकी अविष्कारक क्रिस्टोफर लैथम शॉल्स Christopher Latham Sholes (14 फरवरी 1819 – 17 फरवरी 1890) ने QWERTY कीबोर्ड का अविष्कार किया था।

कीबोर्ड के प्रकार (Keyboard Types in Hindi)

Keyboard Kya hai जानने के बाद अब हम कीबोर्ड कितने प्रकार के होते है, जान लेते है।

कंप्यूटर कीबोर्ड कई प्रकार के होते है। और कीबोर्ड काम के आधार पर अलग-अलग प्रकार के होते है। लेकिन यहाँ हम कुछ प्रमुख कंप्यूटर कीबोर्ड के बारे में जानेंगे। जो की निम्नलिखित है।

Wireless Keyboard

keyboard in hindi

Wireless Keyboard को किसी भी कंप्यूटर में कनेक्ट करने के लिए वायर की जरुरत नहीं पड़ती है। इसे कंप्यूटर या लैपटॉप में रेडियो फ्रीक्वेंसी (RF), इन्फ्रारेड (IR), या Bluetooth तकनीक द्वारा जोड़ा जाता है। और इनमे बैट्री होती है जो एक निश्चित समय तक चलती है। और इसके बाद इसे बदलना पड़ता है।

Flexible Keyboard

keyboard in hindi

ये कीबोर्ड आम तौर पर एक सामान्य कीबोर्ड की तरह ही होते है। लेकिन इन्हे हम बिना टूटे मोड़ सकते है। जिसे कही भी लाने और ले जाने में आसानी होती है। ये आम तौर पर सिलिकॉन रबर के बने होते है। जो पानी और धूल के प्रतिरोधी होते है।

Virtual Keyboard

Virtual Keyboard एक Software या Application होता है। जो हमारे कंप्यूटर या लैपटॉप की स्क्रीन पर ओपन होता है। और इसमें हम माउस की सहायता से टाइपिंग कर सकते है।

कीबोर्ड क्या है और इसके प्रकार। Keyboard In Hindi
keyboard in hindi

अगर आप टचस्क्रीन लैपटॉप का उपयोग करते है तो इसमें आपको टाइपिंग में बहुत ही आसानी होगी। लैपटॉप या कंप्यूटर के भौतिक कीबोर्ड के ख़राब हो जाने पर इसका उपयोग कर सकते है। मोबाइल फ़ोन के कीबोर्ड को हम वर्चुअल कीबोर्ड कह सकते है।

Ergonomic Keyboard

कीबोर्ड क्या है और इसके प्रकार। Keyboard In Hindi

इस प्रकार के कीबोर्ड अधिकतर अंग्रेजी के अक्षर (V) वी के आकार के बनाये जाते है। इनका मुख्य उद्देश्य हाथों के तनाव को कम करना है। इस कीबोर्ड के निचे की तरफ कुछ जगह ज्यादा होती है। जहाँ हम हथेलियों को टीकाकार टाइपिंग कर सकते है।

Projection Keyboard

यह कीबोर्ड आज के समय में सबसे ज्यादा उपयोग किया जाने वाला कीबोर्ड है। इसे हम ब्लूटूथ की सहायता से अपने लैपटॉप, कंप्यूटर या स्मार्ट फ़ोन से जोड़ सकते है।

keyboard in hindi

इसमें किसी भी प्रकार की कोई भौतिक कीबोर्ड Keys नहीं होती है। इसका उपयोग करने के लिए एक समतल जगह की जरुरत होती है। जहाँ लेज़र के माध्यम से सतह पर सही कीबोर्ड बन सके।

जैसे ही हम सतह से किसी की को प्रेस करते है तो लेज़र के माध्यम से इसका सिग्नल सेंसर तक जाता है। और इसके बाद वो अक्षर अपने PC या लैपटॉप में टाइप हो जाता है। इसे हम Projection या Laser Keyboard कहते है

Gaming Keyboard

Gaming Keyboard को लंबे समय तक उपयोग करने के लिए मजबूत बनाया जाता है। और इनको Ergonomic Keyboard की तरह ही डिज़ाइन किया जाता है। रात में गेम खेलने में आसानी के लिए इनमे Keys में लाइट लगी हुई होती है।

कीबोर्ड क्या है और इसके प्रकार। Keyboard In Hindi

इन कीबोर्ड में एक सामान्य कीबोर्ड से कम Keys होती है। गेमिंग के लिए मुख्य रूप से WASD और इन Keys के आस-पास की Keys और Esc का ही अधिकतर उपयोग होता है।

Mechanical Keyboard

Mechanical keyboard एक सामान्य कीबोर्ड से बिलकुल ही अलग होते है। सामान्य कीबोर्ड में Keys के निचे Rubber Dome होता है। लेकिन Mechanical Keyboard में हर Keys एक Switch के रूप में होती है।

कीबोर्ड क्या है और इसके प्रकार। Keyboard In Hindi
keyboard in hindi

इनके निचे एक स्प्रिंग और प्लंजर लगे होते है। जो की हमे फ़ास्ट टाइपिंग करने में बहुत ही मदद करते है। और ये महंगे होते है, लेकिन इन्हे यूजर को उपयोग करने में बहुत ही आसानी होती है।

Membrane Keyboard

कीबोर्ड क्या है और इसके प्रकार। Keyboard In Hindi

इस प्रकार के कीबोर्ड की कुंजियों के बिच में खाली जगह नहीं होती है। ये कीबोर्ड फ्लैट होते है। इन कीबोर्ड में टाइपिंग करना बहुत ही कठिन होता है। फ़ास्ट टाइपिंग करते वक्त इनमे त्रुटि रहने की सम्भावना ज्यादा रहती है।

Multimedia Keyboard

keyboard in hindi
computer keyboard in hindi

Multimedia Keyboard एक सामान्य कीबोर्ड की तरह ही होता है। लेकिन यह Multimedia Keys के साथ होता है। जैसे- इंटरनेट, म्यूजिक और ईमेल जैसे अन्य बटन उपलब्ध होते है।

कीबोर्ड कुंजियों के प्रकार (Keyboard Keys Types)

Keyboard in Hindi पोस्ट में अब हम Keyboard keys कितने प्रकार की होती है। इसके बारे में जानेंगे।

एक कीबोर्ड में सामान्यतया 106 से 110 Keys होती है। और इन सभी कुंजियों को अलग- अलग भागो में बता गया है। और इन सभी का काम अलग अलग होता है। कीबोर्ड की कुंजियों को मुख्य रूप से 7 भागों में बाटा गया है। जो की निम्नलिखित है-

Alphanumeric Keys

इस प्रकार की Keys में Alphabets (AtoZ) और नंबर (1-0), और सारे Symbols आते है। और टाइपिंग का सारा काम इन्ही Keys से पूरा होता है।

Function Keys

कीबोर्ड के सबसे ऊपर वाले भाग की (Keys) कुंजियों को Function Keys कहते है। जो की F1 से F12 तक होती है। और इन सभी का काम अलग-अलग होता है। जैसे- कीबोर्ड में F1 से कंप्यूटर में Help Center को Open कर सकते है। और F2 से किसी फोल्डर को डायरेक्टली Rename कर सकते है। आदि।

Indicator Keys

किसी भी कीबोर्ड में 3 तरह की इंडिकेटर Keys होती है। और इन सभी का काम अलग-अलग होता है।

Num lock Key:- Numeric Keypad का उपयोग करने पर इस Key का उपयोग किया जाता है। अगर ये ON होती है तो इसके ऊपर एक Signal के रूप लाइट दिखाई देती है।

Capslock Key:- इस Key का उपयोग Alphabetic letter को Capital या बड़ा लिखने के लिए किया जाता है। इसे on करने के बाद बिना Shift की मदद से सारे लेटर बड़े लिख सकते है।

Scroll Key:- इस Key का उपयोग Scrolling के लिए किया जाता है।

Cursor Control Keys

इन Keys को Navigation Keys के नाम से भी जाना जाता है। इन कुंजियों का उपयोग कर्सर को स्क्रीन पर कण्ट्रोल करने अर्थात दायें, बायें और ऊपर निचे करने के लिए किया जाता है।

Enter Key:- Enter Key Ok बटन के जैसे काम करती है। टाइपिंग करते हुए लाइन को चेंज करने के लिए इस Key का उपयोग किया जाता है। और किसी भी Command को Confirm करने के लिए भी इस key का उपयोग किया जाता है।

Tab Key:- इस Key की मदद से हम ने Peragraph Start कर सकते है। और किसी भी Menu में बिना माउस की सहायता एक Option से दूसरे option पर जाने के लिए भी इस Key का उपयोग किया जाता है।

Home Key:- इसका उपयोग किसी भी Paragraph में first line में जाने के लिए और इसका उपयोग सभी पैराग्राफ को एक साथ सेलेक्ट करने के लिए भी किया जाता है।

End Key:- इसका उपयोग किसी भी Peragraph की last line में जाने के लिए किया जाता है। यह Home Key के विपरीत होता है।

Pagedown Key (PgDn):- इस Key का उपयोग किसी भी Page या Documents बनाते समय निचे की तरफ जाने के लिए किया जाता है।

PageUp Key (PgUp):- इस Key का उपयोग किसी भी Page या Documents में ऊपर की तरफ जाने के लिए किया जाता है।

BackSpace Key:- इसका उपयोग किसी भी लेटर के बाई तरफ से वर्ड को डिलीट करने के लिए किया जाता है।

Delete Key:- इसका उपयोग बैकस्पेस कुँजी का बिलकुल ही विपरीत है। किसी बी लेटर में दाई तरफ से वर्ड को डिलीट करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है।

Insert Key:- इस Key का उपयोग Missing Character को पूरा करने के लिए किया जाता है। Insert Key को On करके किसी भी Character के बिच में लेटर को बिना किसी दिक्कत के टाइप कर सकते है।

Arrow Keys:- इन कुंजियों का उपयोग भी कंप्यूटर में कर्सर को ऊपर, निचे और दाये तथा बाएं करने के लिए किया जाता है। इनका उपयोग किसी Menu में एक Option से दूसरे Option पर जाने के लिए भी किया जाता है।

Modifier Key

इस प्रकार की कुंजियों में Alt, Ctrl और Shift जैसी कुंजियाँ आती है। इन प्रत्येक कुंजी का उपयोग किसी न किसी कुँजी के साथ होता है।

Shift:- Shift के साथ किसी भी Letter को टाइप करते है तो सारे लेटर Upper Case में टाइप होते है। ऐसे ही Shift के साथ कीबोर्ड के ऊपर की नंबर वाली कुंजी को प्रेस करने पर उसमे जो सिंबल होता है वो टाइप होता है।

Ctrl:- Ctrl के साथ C प्रेस करने पर सेलेक्टेड वर्ड या पेराग्राफ को कॉपी कर सकते है। और Ctrl के साथ V प्रेस करने पर कॉपी Word या Peragraph को Past कर सकते है।

Alt:- इस कुँजी की मदद से हम किसी भी Program के Menu को Open कर सकते है। और इसके साथ ही इससे Numeric Keypad से हम लेटर को टाइप कर सकते है।

Numeric Keypad

यह कीबोर्ड के दाई तरफ होता है। इसमें 1 से 0 तक गिनती होती है। इसका उपयोग गणितीय काम करने के लिए किया जाता है। इसका उपयोग करने से पहले Numlock Key को On करना पढ़ता है।

Special Keys

किसी भी कीबोर्ड में ३ Spacial कुंजिया होती है। और इन कुंजियों का कंप्यूटर में एक प्रमुख उपयोग होता है।

Escap Key (Esc):- इस कुंजी का उपयोग Computer में Present में चल रहे Software, Task या Programing को Cancel या फिर Exit करने के लिए किया जाता है।

Space Key:- यह किसी भी कीबोर्ड की सबसे बड़ी Key होती है। इसका उपयोग टाइपिंग करत्ते वक्त शब्दों के बिच में स्पेस या फिर गेप देने के लिए किया जाता है।

Window Key:- इस Key का उपयोग Computer या Laptop में Start Menu को Open करने के लिए किया जाता है।

Conclusion

दोस्तों Keyboard in hindi पोस्ट में आपको Keyboard Kya hai, कीबोर्ड के प्रकार (keyboard Types in hindi) और कीबोर्ड का अविष्कार किसने किया (Who Invented Keyboard) आदि के बारे में जानकारी मिल गई होगी।

अगर आपको Keyboard In Hindi पोस्ट पसंद आयी हो और इससे आपको एक अच्छी जानकारी मिली हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ Social Media पर जरूर Share करें। जिससे आपके दोस्तों को भी Computer Keyboard के बारे में जानकारी मिले।

मेरा नाम Ram Gadri है। मैं इस Blog का Founder और Content writer हूँ। हमारा इस Blog को बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषी लोगों को इंटरनेट से जुड़ी जानकारी प्रदान करवाना है। यहाँ आपको शिक्षा, तकनिकी, कंप्यूटर और मेक मनी से जुड़ी हर तरह की जानकारी मिलने वाली है।

5 thoughts on “कीबोर्ड क्या है और इसके प्रकार। Keyboard In Hindi”

Leave a comment