MLA Ka Full Form क्या है। और MLA कौन होता है ?

आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की MLA ka full form क्या होता है। कुछ लोगो को इसके बारे में जानकारी नहीं होती है। तो उनके लिए मैंने ये आर्टिकल लिखा है।

इस पोस्ट में आपको mla का full form क्या होता है। इसके साथ ही MLA बनने के लिए योग्यताएँ, विधायक के कार्य और जिम्मेदारिया और विधायक को सरकार के द्वारा मिलने वाली सुविधाओं के बारे में जानकारी मिलने वाली है।

MLA Ka Full Form क्या है। MLA कौन होता है?

वैसे तो MLA शब्द के कई सारे अलग – अलग फुलफॉर्म होते है। लेकिन इस पोस्ट में हम इस शब्द को राजनीती से जोड़कर(mla ka full form in politics) समझने वाले है।

विधायक का कार्य काल 5 वर्ष का होता है। प्रत्येक 5 वर्ष के बाद जनता द्वारा चुनाव के माध्यम से विधायक को चुना जाता है।

MLA Full Form In English- Member of Legislative Assembly

Mla Ka Full Form- MLA full form Hindi – विधान सभा सदस्य।

MLA – विधान सभा का सदस्य होता है, जिसे हम विधायाक भी कहते है। MLA विधान सभा क्षेत्र का प्रतिनिधि होता है। विधान सभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने के लिए जनता द्वारा प्रतिनिधि के रूप में MLA को चुना जाता है।

किसी भी विधान सभा में विधायक का चुनाव वहाँ के मतदाताओं द्वारा किया जाता है। उसके बाद सारे विधायकों द्वारा राज्य के मुख्य मंत्री (Chief Minister) को चुना जाता है। आमतौर पर विधायक जिस पार्टी के ज्यादा होंगे मुख्यमंत्री भी उसी पार्टी का बनता है।

MLA के कार्य और जिम्मेदारियाँ

एक नेता होने के नाते विधायक की भी कुछ जिम्मेदारियाँ होती है जिन्हे पूरा करना जरुरी है। इन्हे हम विधायक के क्या कार्य होते है? इस तरीके से भी समझ सकते है। क्योंकि विधायक जनता के लिए जो कार्य करता है। वहीं उसकी जिम्मेदारियाँ भी होती है।

  • विधायक को उसके स्थानीय निर्वाचन क्षेत्र के विकास के लिए मिलने वाले सरकारी फंड का सही से उपयोग करके विकास करवाना चाहिए।
  • उसे अपने निर्वाचित क्षेत्र की समस्याओ और वहाँ की जनता की शिकायतों को राज्य सरकार तक पहुँचना चाहिए।
  • विधायक को अपने निर्वाचित क्षेत्र के विकास के लिए समय-समय पर वहाँ की समस्याओं के बारे में जानकारी लेना चाहिए।

विधायक बनने के लिए योग्यताएं

MLA ka Full Form और विधायक के कार्य के बाद अब हम विधायक बनने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए इसके बारे में जान लेते है। विधायक बनना आसान नहीं है ये बात तो आपको पता ही है। क्योकि विधायक जनता द्वारा चुना जाता है।

विधायक बनने के लिए उम्मीदवार किसी राजनैतिक पार्टी से भी चुनाव लड़ सकता है। किसी कारण वश अगर किसी पार्टी से चुनाव लड़ने में समस्या होती है। तो उम्मीदवार निर्दलीय भी चुनाव लड़ सकते है।

विधायक बनने के लिए भी उम्मीदवार के अंदर कुछ योग्यताओ को होना जरुरी है। जो निम्नलिखित है –

  • विधायक बनने के लिए उम्मीदवार की उम्र 25 वर्ष होनी जरुरी है।
  • उम्मीदवार को भारत की नागरिकता प्राप्त होनी चाहिये अर्थात वह भारत का नागरिक होना चाहिये।
  • उम्मीदवार का किसी भी निर्वाचन क्षेत्र की मतदाता सूचि में नाम जरूर होना चाहिए।
  • उम्मीदवार सरकार की किसी लाभप्रद योजना का भागीदार नहीं होना चाहिए।
  • उम्मीदवार का मानसिक संतुलन ठीक होना चाहिए। अर्थात मानसिक रूप से पूरा स्वस्थ होना चाहिए।

विधायक को कौन – कौन सी सुविधाएं मिलती है

भारत में लगभग कुल 4120 विधायक है। जिनको सरकार की तरफ से कई सारी सरकारी सुविधाएं प्राप्त होती है। जैसे हर विधायक को सरकार की तरफ से वेतन मिलता है। जो सभी राज्यों में अलग- अलग होता है। जिसमे वेतन के रूप में 75000 हजार रुपये मिलते है।

इसके आलावा 2400 हजार रुपये डिज़ल खर्च के और 6000 हजार रुपये PA (Personal Assistace) रखने के मिलते है। और प्रति माह 1200 हजार रुपये मोबाइल खर्च और इलाज खर्च के लिए मिलते है।

इसके साथ ही विधायक को फ्री रेलवे यात्रा की आजीवन सुविधा मिलती है। इसके साथ ही विधायाक के रेटायर्मेंट के बाद 30000 हजार रुपये पेंशन मिलती है। और डीज़ल खर्च के लिए 8000 हजार रुपये अलग से मिलते है।

सभी राज्यों के विधायकों को अलग-अलग सुविधाएँ मिलती है। जैसे तेलंगान में विधायकों को सबसे ज्यादा सैलरी 2.5 लाख रुपये मिलती है। और त्रिपुता के विधायकों को सबसे कम 34000 हजार रुपये मिलते है।

दोस्तों इस पोस्ट में मैंने MLA Ka Full Form के साथ विधायक से जुड़ी कुछ सामान्य जानकारी के बारे में बताया है। अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करे। अगर इस जानकारी से रिलेटेड आपके पास कोई सुझाव या कोई भी सवाल हो तो हमे कमेंट करके जरूर बताये।

मेरा नाम Ram Gadri है। मैं इस Blog का Founder और Content writer हूँ। हमारा इस Blog को बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषी लोगों को इंटरनेट से जुड़ी जानकारी प्रदान करवाना है। यहाँ आपको शिक्षा, तकनिकी, कंप्यूटर और मेक मनी से जुड़ी हर तरह की जानकारी मिलने वाली है।

4 thoughts on “MLA Ka Full Form क्या है। और MLA कौन होता है ?”

  1. Agar koi vidhayak kisi karan se 5 year se pahle aapna pad tyag karta hai toh waha maximum kitne dino ke andar chunaw karana hota hai.

    Reply
  2. hello sir
    me apke blog ko padhta hu
    or apne blog blogging or blogger ke bare me jo jankari di usse mujhe kafi knowledge mili
    me aj yani Saturday ko blog banaya hai or me bhi add seen laga na chahata hu toh mujhe bata sakte hai ke kitne log apka dekhne or padhne ke bad add seen laga sakta hu or add seen Google khud lagata hai ya hame lagana padhta hai

    Reply
    • Thanks,
      Agar aapne naya Blog banaya hai to sabse pahle apne blog par 10-15 unique or 1000+ Word ki post likhe, iske baad apne blog ko google search console me submit kare.
      Jab aapke Blog par thoda Bahut traffic organic aane lage tab aap Adsense ke liye Apply kar sakte hai. or ha ads aapko khud lagane padhte hai.
      Agar aapko or kuch jankari chahiye to aap humare contact page se Contact kar sakte hai.

      Reply

Leave a comment