Postpaid And Prepaid Meaning In Hindi। प्रीपेड और पोस्टपेड में अंतर जाने।

Postpaid and Prepaid Meaning in Hindi- आज हम Prepaid और PostPaid Sim क्या होते है? इसके बारे में डिटेल से जानने वाले है।

भारत में दो तरह के SIM Card का उपयोग किया जाता है। एक प्रीपेड और दूसरा पोस्टपेड। लेकिन क्या आपको पता है प्रीपेड और पोस्टपेड सिम में क्या अंतर है?

और आपको कौनसा सिम खरीदना चाहिए। जो आपके लिए ज्यादा फायदेमंद हो। क्योंकि ज्यादातर लोग वर्तमान में Prepaid Sim का उपयोग करते है।

लेकिन ये उन्हें खुद को नहीं पता होता है। तो आज की इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको Prepaid और Postpaid Sim में कन्फूज़न नहीं होगा।

और अपने उपयोग के हिसाब से कौनसा सिम कार्ड खरीदना है। इसका निर्णय आप खुद ले सकोगे।

Prepaid SIM क्या होती है? Prepaid Meaning in Hindi

सबसे पहले हम Prepaid SIM की बात करते है। इसके नाम से ही आप अंदाजा लगा सकते है। Pre का मतलब पहले और Paid का मतलब भुगतान या रिचार्ज।

इसमें पहले आपको Recharge करवाना पड़ता है। इसके बाद Calling, SMS और Internet का उपयोग कर सकते है।

आम तौर पर Prepaid Sim के प्लान बहुत महंगे होते है। लेकिन एक आम व्यक्ति के लिए ये सस्ते पड़ जाते है।

Emergency में हम इसमें 10-20 Rs तक का लोन भी ले सकते है। जो Call और Internet के लिए अलग-अलग होता है।

पैसे ख़तम हो जाने पर फिर से पैसे डलवाने के बाद ही कालिंग, मैसेज, और इंटरनेट का उपयोग कर सकते है।

भारत में ज्यादातर Prepaid सिम के उपयोग करता है। Jio आने के बाद अधिकतर Prepaid Sim में अनलिमिटेड प्लान मिलने लग गए है। जिनका प्लान रिचार्ज के हिसाब से अलग- अलग वैलिडिटी के साथ होता है।

Postpaid Sim क्या होती है? Postpaid Meaning in Hindi

Postpaid Sim पूरी Prepaid Sim से विपरीत होती है। इसमें आप Calling, Sms और Internet की सेवा का फायदा पहले उठा सकते है।

और बाद में इसका Bill Pay करना पढ़ता है। जो आपके प्लान के हिसाब से मंथली या इयरली हो सकता है।

Postpaid Sim ज्यादा Internet और Calling का उपयोग करने वालो के लिए फायदेमंद है। इनका उपयोग ज्यादातर बिजनेसमैन द्वारा किया जाता है।

इसमें रिचार्ज ख़तम होने की प्रॉब्लम नहीं होती है। क्योकिं इसमें मंथली या इयरली आपके प्लान के हिसाब से बिल भुगतान करना पढता है।

अब आपको समझ में आ गया होगा की Prepaid और PostPaid Sim क्या है? Postpaid and Prepaid Meaning in Hindi.

और आप किस सिम कार्ड का उपयोग करते हो इसके बारे में भी आपको समझ में आ चूका होगा।

Postpaid और Prepaid सिम में अंतर

अब हम Postpaid और Prepaid सिम में क्या अंतर होते है। इसके बारे में जान लेते है। जिससे आपको क्लियर पता चल जायेगा की आपको कौनसे सिम कार्ड को खरीदने की आवयश्कता है।

रिचार्ज

प्रीपेड सिम में आपको पहले रिचार्ज करवाना पड़ता है। और कॉलिंग, मैसेज और इंटरनेट का उतना ही उपयोग कर पाओगे जितना रिचार्ज करवाया होगा।

जबकि पोस्टपेड सिम में कॉलिंग, मैसेज और इंटरनेट का पहले उपयोग कर सकते हो। और जितना इसका उपयोग करते हो उतना ही आपको बिल का भुगतान करना पड़ता है।

प्लान

प्रीपेड सिम में आमतौर पर प्लान सस्ते होते है। लेकिन ज़्यादा कॉल और इंटरनेट का उपयोग करने वालो के लिए महंगे पड़ जाते है।

पोस्टपेड सिम में प्लान महंगे होते है। लेकिन ज़्यादा कॉल और इंटरनेट का उपयोग करने वालो के लिए ये सस्ते पड़ जाते है। बिजनेसमैन के लिए ये प्लान सस्ते पड़ जाते है।

वैलिडिटी

प्रीपेड सिम के रिचार्ज अनलिमिटेड वैलिडिटी के साथ आते है। आप जितना कॉल और डाटा का उपयोग करते है। उतना ही आपका बेलेन्स ख़तम होगा।

जबकि पोस्टपेड सिम में प्लान वैलिडिटी के साथ आते है। इसमें आपको मंथली या इयरली आपके प्लान के हिसाब से रिचार्ज करवाना पड़ता है।

भुगतान

प्रीपेड सिम में रिचार्ज करवाने के लिए क्रेडिट कार्ड की जरुरत नहीं होती है। इसमें आप डेबिट कार्ड या Retailer से Cash देकर भी रिचार्ज करवा सकते है।

लेकिन पोस्टपेड सिम में बिल के भुगतान के लिए आपके पास क्रेडिट कार्ड का होना जरुरी है।

लोन

प्रीपेड सिम में इमरजेंसी होने पर आप कॉलिंग या इंटरनेट डाटा के लिए लोन ले सकते है। जबकि पोस्टपेड सिम में लोन लेने की जरुरत नहीं पड़ती है। इसमें आपको मंथली या इयरली बिल का भुगतान करना पड़ता है।

फ़ायदा

प्रीपेड सिम में अगर आप ज़्यादा Call, Sms और Internet का उपयोग करते है। तो कोई फायदा नहीं मिलता है। वही अगर आप Calling ज्यादा करते है। तो पोस्टपेड आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। लेकिन इंटरनेट की इसमें भी लिमिट होती है।

Postpaid या Prepaid कौनसा SIM लें

दोस्तों वैसे पोस्ट पढ़ने से आपने अनुमान लगा लिया होगा की आपको कौनसी सिम लेनी चाहिए। लेकिन फिर भी आप कंफ्यूज है तो मैं आपको बता देता हूँ।

अगर आप अपने Personal उपयोग के लिए लेना चाहते है। जिसमे कॉलिंग, मैसेज और इंटरनेट का उपयोग कम ही करते है। तो आपके लिए Prepaid Sim बेटर रहेगा।

लेकिन आप सिम अपने बिज़नेस के लिए या Office Work के लिए लेना चाहते है। जिसमे आपको Calling और Sms की जरुरत ज्यादा पड़ती है। तो पोस्टपेड आपके लिए सही रहेगा। लेकिन ध्यान देने योग्य बात ये है। की इसमें भी आपको डाटा लिमिटेड ही मिलता है।

वैसे 2018 में Jio के आने के बाद सारे Prepaid Sim (Airtel, Idea, Vodafone, Jio, TaTa Docomo etc.) के प्लान अनलिमिटेड वैधता के साथ सस्ते हो गए है।

इसलिए किसी भी Sim Card को खरीदने से पहले उसके Customer Care से उसके प्लान के बारे में पूरी जानकारी ले।

आपका सिम Prepaid है या Postpaid कैसे जाने

इसे जानना बहुत ही आसान है अगर आप अपने सिम में Calling, Sms और Internet का उपयोग करने से पहले रिचार्ज करवाते है। तो आपका सिम कार्ड प्रीपेड है।

वही अगर आप इन सेवाओं का उपयोग करने के बाद बिल का भुगतान करते है तो आपका सिम पोस्टपेड है। अगर फिर भी कन्फूजन बना रहे तो आप कस्टमर केयर में कॉल करके इसके बारे में जानकारी ले सकते है।

Prepaid Payment क्या होता है

आपने पोस्ट में Prepaid नाम कई बार सुना है। तो आपके मन में एक सवाल जरूर आ रहा होगा की आखिर प्रीपेड क्या होता है। तो आपकी जानकारी के लिए बता दूँ।

Prepaid Payment का मतलब होता है। पहले Pay करना अर्थात पहले भुगतान करना। जैसे पहले भुगतान करना और बाद में उस भुगतान की हुई सेवा का लाभ लेना।

जैसे अगर आपको को घर रेंट पर लेते है। तो उसके लिए आपको पहले उसका किराया देना पड़ता है। बाद में आप उस घर में रह सकते है। अब आप समझ गए होंगे।

दोस्तों मुझे उम्मीद है की Postpaid and Prepaid Meaning in Hindi क्या है? और Difference Between Prepaid and Postpaid in Hindi, Prepaid और postpaid में से कौनसा Sim बेहतर है आपको सारी जानकारी मिल चुकी होगी।

दोस्तों postpaid and Prepaid Meaning in Hindi पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करे। धन्यवाद

मेरा नाम Ram Gadri है। मैं इस Blog का Founder और Content writer हूँ। हमारा इस Blog को बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषी लोगों को इंटरनेट से जुड़ी जानकारी प्रदान करवाना है। यहाँ आपको शिक्षा, तकनिकी, कंप्यूटर और मेक मनी से जुड़ी हर तरह की जानकारी मिलने वाली है।

Leave a comment