Web Browser क्या हैं और कैसे काम करता हैं विस्तार से जानें

अगर आप अपने मोबाइल या कंप्यूटर में इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं तो आप भी Web Browser का इस्तेमाल तो जरूर करते होंगे लेकिन क्या आपको पता हैं Web Browser क्या हैं और Web Browser कैसे काम करता हैं तथा Web Browser कितने प्रकार के होते हैं।

मुझे पता हैं आपको इसके बारे में जानकारी नहीं हैं इसीलिए आप इस आर्टिकल तक आये हो लेकिन आज की इस पोस्ट में मैं आपको वेब ब्राउज़र से संबधित सारी जानकारी देने वाला हूँ जिससे आपको पोस्ट के अंत तक ये अच्छे से समझ में आ जायेगा।

की आखिर जिन वेब ब्राउज़र का हम इस्तेमाल करते हैं उनका पूरा प्रोसेस कैसे काम करता हैं और कैसे वे हमारे सामने कोई भी जानकारी कुछ ही सेकण्ड्स में प्रदर्शित कर देते हैं। और उम्मीद करता हूँ आपके दिमाग में आने वाले सारे सवालों के जवाब पोस्ट के अंत तक आपको मिल जायेंगे।

Web Browser क्या हैं (What is Web Browser in Hindi)

वेब ब्राउजर सॉफ्टवेयर का प्रयोग वेबसाइट देखने के लिए किया जाता है। यह उपयोगकर्ता तथा वर्ल्ड वाइड वेब के बीच इंटरफ़ेस का काम करता है। यह उपयोगकर्ता को वेब सर्वर से रिक्वेस्ट भेजने की, कंप्यूटर पर वेब पेज की रिक्वेस्ट व्यू करने की अनुमति देता है। इसके अतिरिक्त यह ऑडियो तथा वीडियो सूचना भी दिखाता है।

इसको अगर आसान भाषा में समझे तो वेब ब्राउज़र इंटरनेट पर जाने का एक दरवाजा हैं जिसमें प्रवेश करके हम इंटरनेट पर उपलब्ध किसी भी जानकारी को प्राप्त कर सकते हैं। और इंटरनेट का इस्तेमाल करने के लिए Web Browser हमारे लिए बहुत ही उपयोगी या महत्वपूर्ण चीज हैं।

Web browser कैसे काम करता है?

वेब ब्राउज़र एक सॉफ्टवेयर या एप्लीकेशन हैं जो Word Wide Web या लोकल वेबसाइट से Web Pages को Access करके यूजर की Screen पर दिखाता हैं। जब भी कोई यूजर किसी भी ब्राउज़र में कोई जानकारी सर्च करता हैं तो वेब ब्राउज़र उसकी रिक्वेस्ट को WWW तक पहुंचाता हैं

जहाँ पर इंटरनेट पर भरी पड़ी सारी जानकारी Computer की भाषा HTML में होती हैं उसे ब्राउज़र रीड करके आसान भाषा में बदलकर यूजर के सामने प्रदर्शित करता हैं। जिससे कोई भी यूजर आसानी से उसे पढ़, देख या सुन सके।

मतलब हमें इंटरनेट पर उपलब्ध किसी भी Web Pages को Access करने के लिए ब्राउज़र का इस्तेमाल करना पड़ेगा, किसी भी ब्राउज़र में हम यूआरएल डालकर सर्च करके उस वेबसाइट या वेब पेज तक पहुँच जाते हैं। इसी तरह अगर हमारे पास यूआरएल नहीं हैं तो

हम हमारे जरुरत की जानकारी से Related ब्राउज़र में सर्च करते हैं तो ब्राउज़र हमें उससे रिलेटेड कई सारे रिजल्ट दिखाता हैं और यहाँ से हम हमारी जरुरत के पेज पर जा सकते हैं। और यह सब WWW और Web Browser के कारण ही संभव हो पाता हैं।

क्लाइंट और सर्वर के बीच संचार के चरण इस प्रकार है।

  1. स्थापित कनेक्शन।
  2. क्लाइंट के एक रिक्वेस्ट का मुद्दा।
  3. सर्वर उत्तर भेजता है।
  4. सर्वर कनेक्शन को समाप्त करता है।

Web browser के प्रकार

दोस्तों अब तक आपको वेब ब्राउज़र क्या होते हैं ये तो समझ गए होंगे लेकिन अब हम Web Browser कितने प्रकार के होते हैं इसके बारे में जान लेते हैं। मुख्य रूप से वेब ब्राउज़र दो प्रकार के होते हैं।

1. PC Web Browser

कंप्यूटर लैपटॉप आदि में इस्तेमाल होने वाले वेब ब्राउजर जो वेबसाइट देखने के लिए उपयोग किए जाते हैं| PC web browser के कुछ उदाहरण इस प्रकार है-

  • गूगल क्रोम
  • Internet Explorer
  • Mozilla firefox
  • ओपेरा
  • माइक्रोसॉफ्ट Edge

2. Mobile Web Browser

मोबाइल में इस्तेमाल होने वाले ब्राउज़र जो वेबसाइट देखने में उपयोग किए जाते हैं। Mobile Web Browser के कुछ उदाहरण इस प्रकार है-

  • गूगल क्रोम
  • ओपेरा mini
  • UC Browser
  • Samsung Internet Browser इत्यादि

Web Browser के कार्य

दोस्तों वेब ब्राउज़र के कई सारे काम होते हैं जिनके बारे में आप निचे दिए गए बिंदुओं के माध्यम से जान सकते हैं।

  1. वेब ब्राउज़र उपयोगकर्ता को उपकरणों की सूचना उपलब्ध कराता है, प्राय: जब भी पूछा जाता है।
  2. यह ब्राउज़र में उपयोगकर्ता इनपुट को यूआरएल रूप में प्रोसेस करता है तथा इस पेज को एक्सेस करने की अनुमति देता है। जैसे कि http://www.google.com, https://www.youtube.com, https://www.facebook.com
  3. URL का प्रयोग उपकरणों की पहचान के लिए किया जाता है तथा उसे सरवर से जोड़ा जाता तथा क्लाइंट को दिखाया जाता है।
  4. वेब ब्राउज़र बुकमार्क सूची के प्रयोग द्वारा WWW पर आने-जाने वाले लिंको का ध्यान रखता है। एक उपयोगकर्ता किसी भी समय पर प्रत्यक्ष रूप से इन वेब पेज़ो को एक्सेस कर सकता है।
  5. यह उपयोगकर्ता को व्यक्तियों तथा डायनामिक संदर्भों के साथ संप्रेक्षण करने की अनुमति देता है जैसे सर्वेश, फार्म इत्यादि।
  6. यह संपूर्ण वह पेज़ो के माध्यम से उपयोगकर्ता को निर्देशन की अनुमति देता है तथा HTML प्रारूप में इन स्त्रोत कोड़ को दिखाता है।
  7. यह वेब पर उपलब्ध संसाधनों तथा डाटा के लिए सिक्योरिटी प्रदान करता है तथा इसका प्रयोग प्राय सुरक्षा विधियों द्वारा ही किया जाता है।
  8. ब्राउज़र उपयोगकर्ता के कंप्यूटर प्रोफाइल को वेब पेज में सेव करने की सुविधा प्रदान करता है तथा वेब पेज को प्रिंट करता है तथा इंटरनेट पर किसी अन्य के ई-मेल पर वेब पेज के संदर्भों को भेज देता है।

Web Browser और Search Engine में अंतर

कई सारे लोग Web Browser और Search Engine को एक ही समझते हैं लेकिन ऐसा नहीं हैं ये दोनों ही अलग-अलग हैं और Web Browser और Search Engine में क्या अंतर होता हैं अब हम उसके बारे में जानने वाले हैं।

Web browser

वेब ब्राउजर सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल वेबसाइट देखने के लिए किया जाता है। यह उपयोग करने वाले व्यक्ति तथा वर्ल्ड वाइड वेब के बीच इंटरफ़ेस की तरह काम करता है| यह उपयोग करने वाले व्यक्ति को वेब सर्वर से रिक्वेस्ट भेजने की, और कंप्यूटर पर वेब पेज की रिक्वेस्ट देखने की अनुमति देता है। यह ग्राफिकल ब्राउजर टेक्स्ट, ग्राफिक्स, वीडियो, ऑडियो आदि सूचना दिखाते हैं।

Search engine

सर्च इंजन एक ऐसा प्रोग्राम है, इसकी सहायता से हम दर्शाये गई Keywords Programs को Search कर सकते हैं। उदाहरणतय:- Search Engine में Google, Bing और Yahoo होते है। Search Engine प्रोग्राम जिसे Spider या Crawler कहते हैं,

इसके द्वारा यह जितने सक्षम हो उतने डॉक्यूमेंट खोजता है। अन्य प्रोग्राम जिसे Indexer कहते हैं, वो डॉक्यूमेंट को पढ़ता है और उन डॉक्यूमेंट में निहित शब्द के आधार पर Index बनाता है। प्रत्येक Search Engine एक Proprietary algorithm का उपयोग करता है, जिसमें सिर्फ अर्थपूर्ण परिणाम ही मिलते हैं।

Web browser के उदाहरण

दोस्तों अब हम कुछ वेब ब्राउज़र का उदहारण देने वाले हैं जिनके माध्यम से आपको अच्छे से समझ में आ जाये की वेब ब्राउज़र क्या हैं।

  1. गूगल क्रोम
  2. सफारी
  3. Microsoft Edge
  4. Firebox
  5. ओपेरा
  6. Avast secure browser
  7. UC browser
  8. Torch browser
  9. Vivaldi
  10. Internet explorer

Web browser कौन-कौन से हैं?

दोस्तों अब तक आपको उदहारण के माध्यम से समझ में तो आ गया होगा की आखिर वेब ब्राउज़र क्या हैं लेकिन अब हम इनके बारे में थोड़ा विस्तार से जान लेते हैं।

1. माइक्रोसॉफ्ट इंटरनेट एक्सप्लॉरर (MSIE)

यह ब्राउज़र माइक्रोसॉफ्ट द्वारा डिजाइन किया गया था। 90 के दशक में इसका इस्तेमाल अत्यधिक मात्रा में होता था लेकिन 2004 में Firefox और 2008 में क्रोम के आने से इसका इस्तेमाल काफी घट गया क्योंकि इस समय मोबाइल का काफी इस्तेमाल होने लगा था।

2. Netscape Navigator

1990 के दशक में यह काफी प्रचलित वेब ब्राउज़र था लेकिन 2006 आते-आते इस वेब ब्राउज़र का इस्तेमाल काफी कम हो गया क्योंकि इस समय मोबाइल का यूज बढ़ने लगा था और कंप्यूटर का यूज धीरे-धीरे कम हो रहा था।

3. Opera Browser

ओपेरा तेजी से काम करने वाला, सुरक्षित मुफ्त इंटरनेट ब्राउज़र है जो ऑनलाइन काम में सुरक्षा का पूरा ध्यान रखता है। ओपेरा ब्राउज़र का तेजी से काम करना ही ब्राउज़र के प्रगति में क्रांति लेकर आया।

4. Mosaic

Mosaic बड़े पैमाने पर इस्तेमाल होने वाला पहला ग्राफिकल ब्राउज़र था| Mosaic WWW पर दस्तावेजों, फाइलों, ग्राफिक्स तक पहुंचाने वाला एक वेब ब्राउज़र है जिसे 1993 में बनाया गया था।

5. Mozilla Firefox

Mozilla Firefox 2002 में लांच हुआ और यह तो सबसे तेज इंटरनेट ब्राउजर है जिसने स्पीड के मामले में गूगल क्रोम को भी पीछे छोड़ दिया। यह ब्राउज़र लगभग 80 से 90 भाषाओं में यूजर्स को उपलब्ध है जिसे आप मोबाइल, विंडोज, Mac, PC किसी में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

6. Google Chrome

गूगल क्रोम ब्राउजर वर्ल्ड वाइड वेब एक्सेस करने के लिए तथा वेब आधारित ऑपरेशन लेने के लिए खुला स्त्रोत प्रोग्राम है। गूगल ने क्रोम 2008 में दिया तथा कई वर्षों तक इश्यूज अपडेट किए। यह विंडो, Linux, Android, ios आदि ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए उपलब्ध है। क्रोम तेज, सुरक्षित तथा आसान वेब ब्राउज़र है।

गूगल क्रोम ब्राउजर थंबनेल डेस्कटॉप शॉर्टकट नोट वेब ब्राउज़र तथा ब्राउज़र के अंदर स्वतंत्र टैब रन के साथ शीघ्र एक्सेस करने जैसी विशेषताएं प्रदान करता है। गूगल क्रोम ब्राउजर एप सुरक्षा के लिए सैंडबॉक्सिंग आधारित बना लेता है।

सामान्य तौर पर सैंडब्वॉय एक उपयुक्त कंप्यूटर पर्यावरण है, जिसमें प्रोग्राम अथवा फाइल चल रही एप्लीकेशन को प्रभावित किए बिना संचालित होते हैं। ब्राउज़र स्तरीय वेब स्तर HTML5 तथा Cascading स्टाइल शीट (CSS)।

क्रोम प्रथम वेब ब्राउजर था जिसने सर्च बॉक्स तथा एड्रेस बार को संयुक्त किया, हाल में उत्पन्न अधिक प्रतिस्पर्धात्मक विशेषताएं उत्पन्न की।

2010 में, गूगल ने ऑनलाइन मार्केट स्थान के लिए क्रोम वेब स्टोर उत्पन्न किया, जहां पर उपयोगकर्ता ब्राउज़र में चल रही एप्लीकेशनों को क्रय अथवा इंस्टॉल करते हैं।

FAQs

सबसे अच्छा वेब ब्राउज़र कौनसा हैं?

वर्तमान में सबसे अच्छा वेब ब्राउज़र Google Chrome हैं जिसको गूगल के द्वारा ही बनाया गया हैं। और वर्तमान में सबसे ज्यादा लोगों द्वारा इसी ब्राउज़र का इस्तेमाल किया जाता हैं।

Conclusion:-

दोस्तों करता हूँ अब तक आपको Web Browser क्या हैं Web Browser कैसे काम करता हैं के बारे में अच्छे से समझ में आ गया होगा लेकिन फिर भी अगर आपके मन में इससे जुड़ा कोई सवाल हैं या डाउट हैं तो हमें कमेंट करके जरूर बताये।

और जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग इसके बारे में जान सके।

Read More Articles:-
Processor क्या हैं और कितने प्रकार के होते हैं
वर्ल्ड वाइड वेब (WWW) क्या हैं और कैसे काम करता हैं
URL क्या हैं और कैसे काम करता हैं विस्तार से जाने
Internet क्या हैं और यह कैसे चलता हैं विस्तार से जानें
Search Engine क्या हैं और कैसे काम करता हैं
IP Address क्या हैं और कितने प्रकार के होते हैं
Computer Programming क्या हैं कैसे सीखें
Google Chrome क्या हैं और कैसे डाउनलोड करें
Computer क्या हैं और इसकी परिभाषा तथा इतिहास
Router क्या हैं और कैसे काम करता हैं विस्तार से जानें
पोस्ट को शेयर करें

मेरा नाम Ram Gadri है। मैं इस Blog का Founder और Content writer हूँ। हमारा इस Blog को बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषी लोगों को इंटरनेट से जुड़ी जानकारी प्रदान करवाना है। यहाँ आपको शिक्षा, तकनिकी, कंप्यूटर और मेक मनी से जुड़ी हर तरह की जानकारी अपनी मातृ भाषा में मिलने वाली है।

Leave a Comment