इंटरनेट क्या है और कैसे चलता है? (What is Internet in Hindi)

What is internet in Hindi -आज कल Internet का उपयोग तो सभी करते है। और बिना इंटरनेट के कुछ पल बिताने भी हमारे लिए काफी मुश्किल होता है। लेकिन कुछ लोगो को ये पता नहीं होता है की इंटरनेट क्या होता है और ये काम कैसे करता है। तो आज की इस पोस्ट में आपको इंटरनेट से जुड़ी कुछ बेसिक जानकारी देने वाला हूँ।

इंटरनेट क्या है? (What is internet in Hindi). इसके साथ ही आज की इस पोस्ट में आपको इंटरनेट का विकास (Development of internet), इंटरनेट कैसे काम करता है (How does Internet work in Hindi), इंटरनेट का फुल फॉर्म (full form of internet)और इंटरनेट के फायदे और नुक़सान (advantages and disadvantages of internet). आदि के बारे में जानकारी मिलने वाली है।

इंटरनेट क्या है? (What is Internet in hindi)

इंटरनेट एक बहुत ही बढ़ा नेटवर्को का जाल होता है। जो हमे बहुत सारी सूचनाएँ और जानकारियाँ एक पल में प्रदान करवा सकता है। इंटरनेट को अंतर्जाल भी कहते है। आसान भाषा में इंटरनेट का मतलब कई सारे कम्प्युटरो का आपस में सम्बन्ध होना या जुड़ना है। Internet शब्द में inter शब्द का अर्थ जुड़ा हुआ और Net का अर्थ जाल होता है।

इंटरनेट का पिता (Father of Internet) विंट कर्फ़ और रॉबर्ट ई कान को कहा जाता है। जिन्होंने वर्ष 1950 में इसकी शुरुआत की थी। इसमें सार्वजनिक, निजी और ग्लोबल स्कोप वाले नेटवर्क होते है।

इंटरनेट पर उपलब्ध डाटा को प्रोटोकॉल द्वारा नियंत्रित किया जाता है।इंटरनेट पर सूचनाओं का आदान- प्रदान करने के लिए TCP /IP (Transmission Control Protocol/Internet Protocol) का उपयोग होता है। इंटरनेट पर किसी फाइल को छोटे भागो में फाइल server द्वारा TCP/IP के द्वारा बाँटा जाता है। और इनको पैकेट्स कहा जाता है।

इंटरनेट का पूरा नाम(full form of internet)International network होता है।

इंटरनेट का विकास (Development of internet)

वर्तमान में इंटरनेट का जो विकसित रूप है। जो कई सारे वैज्ञानिको की मेहनत का परिणाम है। अमेरिका के रक्षा विभाग ने कम्प्यूटरो को आपस में जोड़ने और तकनिकी बढ़त पाने के लिए DARPA (Defense Advanced Research Projects Agency) प्रोजेक्ट की स्थापना की। 21 नवम्बर 1969 में स्टैण्डर्ड रिसर्च इंस्टिट्यूट और कैलिफोर्निया विश्व विद्यालय के मध्य इस प्रोजेक्ट के अंतर्गत ARPANET (Advance Research Project Agency Network) पहला लिंक स्थापित हुआ।

NOSAR अमेरिका से बाहर ARPANET का पहला नेटवर्क संयोजन था। जो वर्ष 1973 में नार्वे और अमेरिका के बिच स्थापित हुआ था। इंटरनेट एशिया में वर्ष 1980 के बाद आया था। इससे पहले एशिया में इंटरनेट का चलन नहीं था।

भारत में सबसे पहले इंटरनेट की शुरुआत वर्ष 1995 में कोलकाता से हुई थी। भारत में सबसे पहले इंटरनेट की सेवाएँ VSNL( Videsh Sanchar Nigam Limited) के अंतर्गत आती थी। इसने दुनिया के दूसरे कम्प्युटरो को भारत के कम्प्युटरो से जोड़ा। इसके बाद भारत सरकार ने प्राइवेट कम्पनियो की भागीदारी शुरू करके इंटरनेट का विस्तार किया।

इंटरनेट कैसे काम करता है ?(How Does Internet Work in Hindi)

हमारे जीवन में इंटरनेट की बहुत ही बड़ी भूमिका होती है। और हम इसकी सहायता से किसी भी खबर या किसी सुचना के बारे में पल भर में जान सकते है। लेकिन क्या आपको पता है की आखिर ये काम कैसे करता है।

इंटरनेट पर हम कुछ भी सर्च करते है तो उसका रिजल्ट हमे कुछ ही सेकंड में मिल जाता है। क्या आपने कभी सोचा है की आखिर हमे इतना शीघ्र जानकारी कैसे मिल जाती है। इंटरनेट क्या है ?(what is internet in hindi) इसके साथ ही आपको मैं इंटरनेट की कार्यविधि के बारे में भी इस पोस्ट में बता रहा हूँ।

इंटरनेट क्या है (What is internet in hindi) इसके बारे में भले ही आपको पहले से पता होगा लेकिन। इंटरनेट कैसे काम करता है(How Does Internet Work in Hindi) इसके बारे में इससे पहले आपको शायद ही पता होगा।

इंटरनेट ऑप्टिक फाइबर केबल के द्वारा चलता है। जिनको submarienecable के नाम से भी जाना जाता है। जो पूरी दुनिया में समुद्र में बिछी हुई है। और इन केबल के माध्यम से सारे देशो के सर्वर को कनेक्ट किया जाता है। ये केबल बहुत ही पतली होती है और एक-एक केबल में लगभग 100 GBPS से भी ज्यादा की स्पीड होती है

what is internet in hindi
what is internet in hindi

अगर आप वायरलेस इंटरनेट का उपयोग करते है। तो इसके लिए आपके आस-पास का जो भी मोबाइल टावर लगा होता है। वो इस केबल से कनेक्ट रहता है। और फिर टावर पर लगे एंटीना द्वारा आपको सुचना प्रदान की जाती है।

हम इंटरनेट पर कुछ भी सर्च करते है वो हमे इन केबल के माध्यम से हजारो मिल दूर डाटा सेंटर से मिलती है। जो आपके डिवाइस के IP Address से आपके डिवाइस तक पहुंच पाती है। Submariene cable कई सारे लैंडिंग पॉइंट से कनेक्टेड होती है।

इंटरनेट के फायदे (Advantages of Internet)

इंटरनेट के आज के समय में बहुत ही सारे फायदे है। इंटरनेट ने हमारे कई सारे कामो को आसान कर दिया है। यहाँ तक की इंटरनेट हमे घर बैठे रोजगार भी दे रहा है। इंटरनेट का उपयोग आजकल हर विभाग में लाभदायक साबित हो रहा है। इंटरनेट के फायदे निम्न है-

  1. इंटरनेट के माध्यम से हम किसी से बहुत ही आसानी से संपर्क बना सकते है। और किसी भी सुचना का आदान -प्रदान कर सकते है।
  2. इंटरनेट के कारण कागज या पेपर की बचत होती है। क्योंकि हम ऑनलाइन किसी भी डाक्यूमेंट्स को प्रकाशित कर सकते है।
  3. व्यापार में इंटरनेट का बहुत ही बढ़ा उपयोग है। जैसे किसी प्रोडक्ट का विज्ञापन करवाने आदि के लिए।
  4. इंटरनेट से हमारे लिए बैंकिंग व्यवस्था भी बहुत ही आसान हो गई है। और हम लेन-देन अपने घर बैठे आसानी से अपने मोबाइल फ़ोन से भी कर सकते है।
  5. इंटरनेट पर हम किसी प्रकार की जानकारी को बार-बार सर्च करते है। तो उसका डाटा हमारे डिवाइस में सेव हो जाता है। जिससे अगली बार सर्च करने में बहुत ही कम समय लगता है।
  6. अब हम इंटरनेट के होने से घर बैठे शॉपिंग कर सकते है। या फिर किसी भी यात्रा के लिए टिकट बुक या रिजर्वेशन भी करवा सकते है।

इंटरनेट के नुकसान (Disadvantages of Internet)

इंटरनेट के फायदे और इंटरनेट क्या है (what is internet in hindi) जानने के बाद हम इंटरनेट से होने वाले नुकसानों के बारे में भी जान लेते है इंटरनेट का उपयोग करने के जितने फायदे है उतने ही नुकसान भी है। यहाँ तक की हम इंटरनेट पर हमारी जितनी भी पर्सनल इनफार्मेशन डालते है। उसका भी लोग गलत इस्तेमाल कर लेते है। इंटरनेट से होने वाले कुछ नुक्सान निम्न है –

  1. किसी भी कंप्यूटर में इंटरनेट के जरिये वायरस घुस सकता है। जिससे वो उस कंप्यूटर की पर्सनल डिटेल्स को चुरा सकता है।
  2. इंटरनेट पर कई सारी वेबसाइट पर लोगो द्वारा रजिस्ट्रेशन के लिए पर्सनल डिटेल डाली जाती है। जो की सुरक्षित्त नहीं होती है।
  3. समय की बर्बादी का इंटरनेट एक मुख्य कारण है। क्योंकि बिना किसी आवश्यकता के इंटरनेट चलाने से समय की बर्बादी होती है।
  4. इंटरनेट पर कई ऐसी वेबसाइट है जो अश्लील वीडियो डालती है। जिससे छोटे बच्चो को गलत शिक्षा मिलती है।
  5. कुछ लोगो को इंटरनेट की लत लग जाती है। जिससे उनके स्वास्थ्य हानि का भी खतरा रहता है।

इंटरनेट के उपयोग (Uses of the internet)

वर्तमान में शायद ही ऐसा कोई क्षेत्र होगा जहाँ पर इंटरनेट का उपयोग नहीं होता है। क्योंकि इंटरनेट ने हमारे कई सारे कामो को बहुत ही आसान कर दिया है। जिसके चलते इसका उपयोग करना भी जरूरी हो गया है।

संचार (Communication)

संचार के क्षेत्र में इंटरनेट का बहुत ही बढ़ा योगदान है। इंटरनेट के कारण ही वर्तमान की संचार व्यवस्था संभव हो पाई है। पहले जहाँ हमे किसी को कोई भी सुचना भेजनी होती थी उसके लिए पत्र लिखना पढ़ता था। और उस पत्र को पहुंचने में कई दिन लग जाते थे।

और आज के समय में हम किसी से भी पल भर में कॉल पर या फिर वीडियो कॉल पर भी बात कर सकते है। जो इंटरनेट के माध्यम से ही संभव हो पाया है।

शिक्षा (Education)

शिक्षा के क्षेत्र में भी इंटरनेट का उपयोग लाभ दायक है। इंटरनेट के माध्यम से छात्र पल भर में किसी भी जानकारी को प्राप्त कर सकते है। और इंटरनेट पर कई सारे कोर्सेस की कोचिंग भी फ्री में मिल जाती है। जिससे छात्रों को कोचिंग की फीस अलग से नहीं देनी पढ़ती है।

बैंकिंग (Banking)

वर्तमान की बैंकिंग व्यवस्था इंटरनेट के कारण ही संभव है। इंटरनेट से हम अपने बैंक अकाउंट को पुरे विश्व में कही पर भी हो वहां से प्रबंधित कर सकते है। और ये स्वचालित प्रक्रिया भी इसके कारण ही संभव हो पाई है।

इंटरनेट के कारण ही हमें मोबाइल बैंकिंग जैसी सुविधा प्राप्त हो पाई है। जिससे हमे हर बार लेन-देन के लिए बैंक नहीं नहीं जाना पढता है।

ऑनलाइन खरीदारी (Online Shopping)

आज कल हर कोई व्यस्त होता है। लोगो के पास इतना समय नहीं होता है, की कुछ भी छोटी मोटी चीज खरीदने के लिए बाजार जाकर ख़रीदे। इसके लिए लोग ऑनलाइन खरीदना पसंद करते है। और ये सब इंटरनेट के होते ही संभव हो पाया है।

ऑनलाइन खरीदने से लोगो के समय के साथ-साथ पैसो की बचत भी हो जाती है। इंटरनेट पर प्रोडक्ट बाजार से कुछ सस्ते मिल जाते है।

पर्यटन (Tourim)

अगर हम कई घूमने जाते है तो जाने से पहले वहाँ की जगह के बारे में रिसर्च करते है। और इसके लिए इंटरनेट बहुत ही उपयोगी है। इसके साथ ही हम किसी जगह के रास्ते को गूगल मैप पर बहुत ही आसानी से देख सकते है।

इसके साथ ही ट्रैन में सफर करने वाले लोगो को ट्रैन को अपने मोबाइल फ़ोन से ट्रैक करने की सुविधा मिलती है। जो की इंटरनेट से ही संभव है।

ऑनलाइन टिकट बुकिंग

इंटरनेट के माध्यम से ट्रैन या फ्लाइट का टिकट ऑनलाइन बुक करवाना बहुत ही आसान हो गया है। जिसे हम अपने मोबाइल फ़ोन से भी बुक करवा सकते है। और इसके लिए हमे अलग से कोई पैसा भी नहीं देना पढता है।

मनोरंजन (Entertainment)

पहले के समय में लोगो के मनोरंजन के लिए बहुत ही कम साधन उपलब्ध होते थे। लेकिन इंटरनेट की मदद से लोगो को कई सारे मनोरंजन के तरीके मिल जाते है। जैसे – गेम खेलना, मूवी देखना या इंटरनेट पर और भी कई सारी क्रियाएँ करके लोग अपना मनोरंजन कर सकते है।

व्यापार (Business)

इंटरनेट व्यापार के क्षेत्र में बहुत ही लाभदायक साबित हुआ है। इंटरनेट के माध्यम से उत्पादक और विक्रेता बहुत ही करीब आ चुके है। इससे एक देश का उत्पादक दूसरे देश के विक्रेता को अपना प्रोडक्ट बहुत ही आसानी से बेच सकता है।

रोज़गार (Employment)

इंटरनेट के माध्यम से नौकरी के लिए ऑनलाइन अप्लाई करना बहुत ही आसान हो गया है। और कम्पनियाँ काम के लिए विज्ञापन भी दे सकती है।

आज-कल इंटरनेट से पैसे कमाने का भी ट्रेंड चल रहा है। लोग ऑनलाइन काम करके पैसे कमा रहे है। ऑनलाइन पैसे कमाने के कई सारे तरीके है। जैसे -ब्लॉग्गिंग, यूटुबिंग, या फिर फ्रीलांसिंग और भी कई सारे तरीके है। जिनसे ऑनलाइन पैसे कमा सकते है।

what is internet in hindi

Conclusion

दोस्तों मैं आशा करता हूँ की आपको इस पोस्ट में दी गई जानकारी इंटरनेट क्या है (what is internet in hindi), इंटरनेट का विकास (Development of internet), इंटरनेट कैसे काम करता है (How Does Internet Work in Hindi), इंटरनेट के फायदे और नुकसान (advantages and disadvantages of internet) और इंटरनेट के उपयोग (the uses of internet) अच्छी लगी होगी।

अगर आपको इंटरनेट क्या है (What is internet in hindi) पोस्ट अच्छी लगी हो। तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे। जिससे उन्हें भी इंटरनेट के बारे में ये जानकारी मिल सके।

मेरा नाम Ram Gadri है। मैं इस Blog का Founder और Content writer हूँ। हमारा इस Blog को बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषी लोगों को इंटरनेट से जुड़ी जानकारी प्रदान करवाना है। यहाँ आपको शिक्षा, तकनिकी, कंप्यूटर और मेक मनी से जुड़ी हर तरह की जानकारी अपनी मातृ भाषा में मिलने वाली है।

5 thoughts on “इंटरनेट क्या है और कैसे चलता है? (What is Internet in Hindi)”

  1. बहुत ज्यादा चीजों को कवर किया है। बहुत कुछ नया सीखने को मिला

    Reply

Leave a Comment